रेलवे का माल ढुलाई व्यवसाय विकास पोर्टल (Freight Business Development Portal of Railways)

रेलवे का माल ढुलाई व्यवसाय विकास पोर्टल (Freight Business Development Portal of Railways)

रेलवे का माल ढुलाई व्यवसाय विकास पोर्टल
Freight Business Development Portal of Railways

हाल ही में रेल मंत्रालय ने रेलवे के माल ढुलाई व्यवसाय को बढ़ावा देने तथा इसके विकास के लिये माल ढुलाई व्यवसाय विकास पोर्टल (Freight Business Development Portal) नामक एक विशेष पोर्टल लॉन्च किया है। यह पोर्टल कोरोना संकट के चलते प्रारम्भ किया गया हैं !!


पृष्ठभूमि:-
 
हाल ही में रेल मंत्रालय ने कोरोनोवायरस संकट के चलते यात्री ट्रेन सेवाओं को निलंबित किया था जिसके कारण रेलवे अपनी आय के लिये अधिकांशतः माल ढुलाई से प्राप्त राजस्व पर निर्भर है।
वही डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (DFCCIL) माल गाड़ियों की विशेष आवाजाही के लिये 3,342 किलोमीटर के पूर्वी और पश्चिमी फ्रेट कॉरिडोर का निर्माण कर रहा है। जिसके परिणाम स्वरूप रेलवे अपनी आय में वृद्धि कर सके !!
सामान्य अर्थो में समझे तो DFCCIL रेल मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन एक सरकारी उद्यम है। 

पोर्टल के विषय में:-

अपनी तरह का पहला समर्पित माल ढुलाई पोर्टल यह सुनिश्चित करेगा कि सभी कार्य उपभोक्ता केंद्रित हों, लॉजिस्टिक्स प्रदान करने वालों की लागत में कमी आए, आपूर्तिकर्त्ताओं के लिये ऑनलाइन ट्रैकिंग सुविधा सुनिश्चित हो और माल परिवहन की प्रक्रिया सरल बने।
इसका उद्देश्य मानवीय प्रक्रियाओं के स्थान पर ऑनलाइन प्रक्रिया शुरू करना है ताकि मानवीय सहभागिता की आवश्यकता को कम किया जा सके।
यह पोर्टल व्यापार-सुगमता, पारदर्शिता और पेशेवर समर्थन प्रदान करने पर केंद्रित है।
रेलवे ने 4000 से अधिक माल ढुलाई टर्मिनलों पर 9,000 से अधिक उपभोक्ताओं को माल ढुलाई सेवा प्रदान करने के लिये संग्रहण कर्त्ताओं, ट्रक मालिकों, गोदाम मालिकों तथा श्रम प्रदाताओं को आमंत्रित किया है।