Current affairs/Daily Current Affairs - 27 May 2019

Current affairs/Daily Current Affairs - 27 May 2019

भारत की अर्थव्यव्स्था में होगी वृद्धि:- OECD की रिपोर्ट


चर्चा में क्यों:-
The Organisation for Economic Co-operation and Development (OECD) / आर्थिक सहयोग और विकास संगठन की आर्थिक आउटलुक रिपोर्ट जारी।

मुख्य बिन्दू:-
♦️इस रिपोर्ट के अनुसार भारत की आर्थिक वृद्धि पुन: सशक्त हो जाएगी ,जो 2020 तक 7.5% पहुंच जाएगी।
♦️इस रिपोर्ट के अनुसार, वित्त वर्ष 2019 में राष्ट्रीय सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि 7.25% के करीब पहुचने का अनुमान है,जो 2020 तक 7.50% पर पहुच जायेगी।
♦️यह वृद्धि बेहतर वित्तीय स्थितियों, राजकोषीय और अर्ध-राजकोषीय प्रोत्साहनो के कारण उच्च घरेलू मांग से आएगी, जिसमें ग्रामीण किसानों के लिए नवीन आय के मार्ग तराशे जायेंगे।

OECD:-
♦️ Organisation for Economic Co-operation and Development, (OECD)
♦️यह एक अंतरसरकारी आर्थिक संगठन है, जिसकी स्थापना 1960 में हुई थी, जिसका मुख्य उद्धेश्य आर्थिक प्रगति और विश्व व्यापार को प्रोत्साहित करना था।
♦️OECD का मुख्यालय फ्रांस की राजधानी पेरिस में है। 
Note:- पेरिस सीन नदी के तट पर स्थित एक शहर है, जिसे विश्व में फेशन की नगरी भी कहते है।

 

निर्देशित बम (Guided bomb) का सफल परीक्षण किया

चर्चा में क्यों ?
हाल ही में DRDO द्वारा सुखोई लड़ाकू विमान से 500 किलोग्राम वर्ग के निर्देशित बम का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है।
मुख्य बिन्दू:-
♦️ रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने 24 मई 2019 को राजस्थान के पोकरण में एक सुखोई लड़ाकू विमान से इस मिसाइल का सफलता पूर्वक परीक्षण किया।
♦️ यह मिसाइल 2.5 टन वजनी है जो हवा से सतह ( Air to Surface ) पर मार करने में सक्षम है।
♦️इस मिसाइल की रेंज लगभग 300 किमी है और यह वायुसेना की युद्धक क्षमता में काफी इजाफा करेगी।
♦️ यह प्रणाली विभिन्‍न प्रकार के युद्धक हथियारों को ले जाने में सक्षम है।
सुखोई लड़ाकू विमान:-
♦️ सुखोई-30MKI भारतीय वायुसेना का अग्रिम पंक्ति का लड़ाकू विमान है।
♦️इस बहु-उपयोगी लड़ाकू विमान को रूस के सैन्य विमान निर्माता सुखोई (Russia's Sukhoi) तथा भारत के हिन्दुस्तान ऐरोनॉटिक्स लिमिटेड (Hindustan Aeronautics Limited) के सहयोग से बनाया गया है।
♦️इस श्रृंखला के सुखोई 30 एमकेके तथा एमके-2 विमानों को चीन तथा बाद में इण्डोनेशिया को बेचा गया था। इस विमान ने साल 1997 में अपनी पहली उड़ान भरी थी।
♦️भारतीय वायुसेना में इसे सन् 2002 में सम्मिलित किया गया था।
♦️यह विमान हवा में ईन्धन भर सकता है।
♦️यह विमान अलग अलग तरह के बम तथा प्रक्षेपास्त्र ले जाने के लिये सक्षम है जहाँ हथियार रखने के लिए 12 स्थान है।
♦️इसे भविष्य में ब्रह्मोस प्रक्षेपास्त्र से लैस किया जायेगा।
♦️इसके अतिरिक्त इसमे एक 30 मिमि की तोप को लेंस किया हुआ है।
DRDO:-
♦️ यह भारत की रक्षा से जुड़े अनुसंधान कार्यों के लिये देश की अग्रणी संस्था है।जो भारतीय रक्षा मंत्रालय की एक आनुषांगिक ईकाई के रूप में काम करता है।
♦️ DRDO की स्थापना सन् 1958 में की गई थी। जिसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है।
♦️इसका स्लोगन:-बलस्य मूलम विज्ञानम्
(बल के मूल में विज्ञान है।)