भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ग्रीन चैनल (Green Channel) की शुरुआत

विलय और अधिग्रहण (Mergers and Acquisitions)


चर्चा में क्यों है?:-

हाल ही में भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई)  ने कुछ खास श्रेणीयों के लिए विलय और अधिग्रहण को मंज़ूरी देने के लिये एक ग्रीन चैनल (Green Channel) की शुरुआत की है।

प्रतिस्पर्धा कानून की समीक्षा करने वाली एक उच्च स्तरीय समिति ने कुछ श्रेणियों के लिए मंजूरी प्रक्रिया को सरल बनाने की सिफारिश की है, जिसमें दिवाला और दिवालियापन संहिता (Insolvency and Bankruptcy Code-IBC) के सौदे आते है।


विलय का अभिप्राय:-

जब दो या दो से अधिक कंपनियाँ एक नई कंपनी के निर्माण हेतु एक साथ आती हैं तो उसे विलय कहते है। कानून के दृष्टिकोण से, विलय एक इकाई में दो संस्थाओं का एक कानूनी समेकन है। विलय का प्रमुख उद्देश्य प्रतिस्पर्द्धा को कम कर एक निश्चित क्षेत्र में अपनी क्षमता को बढ़ाना होता है।
 
अधिग्रहण का अभिप्राय:-

अधिग्रहण  का अर्थ है, जब एक व्यावसायिक इकाई किसी दूसरी व्यावसायिक इकाई के शेयर, इक्विटी हितों या परिसंपत्तियों का स्वामित्व लेती है या खरीदती है। अधिग्रहण के दौरान किसी भी नई कंपनी का गठन नहीं किया जाता है।


विलय और अधिग्रहण में अंतर:-

विलय और अधिग्रहण आमतौर पर समानार्थी रूप से उपयोग किए जाते हैं, लेकिन विलय के समय एक नई कंपनी का निर्माण होता है जबकि अधिग्रहण के दौरान कोई नई कंपनी नहीं बनती है।
• अधिग्रहण का लक्ष्य तत्कालीन विकास करना होता है जबकि विलय का लक्ष्य प्रर्तिस्पर्धा को काम करना होता है।
• विलय में अधिग्रहण की अपेक्षा क़ानूनी ओपचारिकताएं ज्यादा होती है।


ग्रीन चैनल क्या है?

विलय और अधिग्रहण को मंज़ूरी देने के लिये एक ग्रीन चैनल (Green Channel) की शुरुआत की है वो इसलिए की एक "नियत तिथि" दर्ज करने की आवश्यकता है क्योंकि एक निश्चित कैलेंडर तारीख होने पर कंपनियों को अपनी कारोबारी जरूरतों, वैधानिक आवश्‍यकताओं की पूर्ति करने जैसे कि क्षेत्रवार नियामकों से लाइसेंस प्राप्‍त करने इत्‍यादि के आधार पर अपने विलय को किसी भावी तिथि से प्रभावी करने में दिक्‍कतें आती रही थी वो नहीं आएगी। इसके अलावा, इंडएएस 103 (कारोबारी विलय) के लिए भी स्‍पष्‍टीकरण देने की जरूरत थी, क्‍योंकि यह लेखांकन से जुड़ी हुई है और इसमें ‘अधिग्रहण तिथि’ का उपयोग एक ऐसी तारीख के रूप में किया जाता है, जब कोई अधिग्रहणकर्ता किसी कंपनी का नियंत्रण अपने हाथों में बाकायदा ले लेता है।

• इस ग्रीन चैनल का निर्माण प्रतियोगिता कानूनों की समीक्षा करने वाली उच्च स्तरीय समिति द्वारा लिया गया है।
• ग्रीन चैनल का प्रमुख उद्देश्य भारत में व्यापार को आसान बनाने की ओर एक कदम बढ़ाना है।
• इस चैनल चॅनेल की कुछ शर्तों के आधार पर निश्चित प्रकार के विलय और अधिग्रहण को शीघ्र मंज़ूरी देने के लिये एक स्वचालित प्रणाली की अनुमति देता है।
• यह कार्य कुछ पूर्व लिखित मापदंडों के आधार पर करेगा।
• ग्रीन चैनल की अवधारणा पहले से ही सिंगापुर, ऑस्ट्रेलिया, न्यूज़ीलैंड, मलेशिया और इंडोनेशिया जैसे देशों में मौजूद है।